Sunday, May 26, 2024
HomeBreaking Newsबस्तर पुलिस के ऑपरेशन 'कगार' से कांप उठा लाल आतंक, 4 महीने...
HomeBreaking Newsबस्तर पुलिस के ऑपरेशन 'कगार' से कांप उठा लाल आतंक, 4 महीने...

बस्तर पुलिस के ऑपरेशन ‘कगार’ से कांप उठा लाल आतंक, 4 महीने में 100 से ज्यादा नक्सली ढेर

India News CG ( इंडिया न्यूज), Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ की बस्तर पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान ऑपरेशन ‘कागर’ लगातार उपलब्धियां हासिल कर रहा है। इस ऑपरेशन के तहत बस्तर संभाग के अलग-अलग नक्सल प्रभावित जिलों में मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों की संख्या 100 के पार पहुंच गई है। जवानों ने अब तक 3 करोड़ रुपये से ज्यादा के नक्सलियों को मार गिराया है।

इसके साथ ही बड़ी संख्या में नक्सलियों के अत्याधुनिक हथियार, विस्फोटक सामग्री, नक्सली साहित्य और नक्सलियों के कई अस्थायी कैंप भी ध्वस्त कर दिए गए हैं. शुक्रवार (10 मई) को भी बीजापुर जिले में जवानों ने 12 इनामी नक्सलियों को मार गिराया था। अब बीजापुर पुलिस ने सभी की पहचान कर ली है। दक्षिण बस्तर के डीआइजी कमलोचन कश्यप ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इन सभी नक्सलियों की पहचान की। यह भी बताया कि वह किन-किन घटनाओं में शामिल था।

12 इनामी नक्सली मारे गये

बस्तर डीआइजी कमलोचन कश्यप ने जानकारी दी कि कांकेर और नारायणपुर के बाद बीजापुर में नक्सल विरोधी अभियान के तहत पुलिस को यह दूसरी बड़ी सफलता मिली है। ठीक एक महीने पहले 2 अप्रैल को बीजापुर जिले के कोरचोली के जंगलों में जवानों ने 13 नक्सलियों को मार गिराया था। शुक्रवार को जिले के बदरिया के जंगलों में करीब एक हजार जवानों ने नक्सलियों को घेर लिया और मुठभेड़ में 12 हार्डकोर नक्सलियों को मार गिराया।

हालांकि इस मुठभेड़ के दौरान बड़े माओवादी नेता लेंगु, पापाराओ, एसजेडसी कमांडर वेला समेत कई बड़े नक्सली कमांडर भाग निकले. लेकिन जो 12 नक्सली मारे गए हैं वो भी लाखों रुपए के इनामी नक्सली हैं। इन सभी के खिलाफ प्रमंडल के विभिन्न थानों में कई आपराधिक मामले दर्ज थे। डीआइजी कमलोचन कश्यप ने बताया कि नये साल से बस्तर में माओवादी संगठन के खिलाफ पुलिस ने अपनी रणनीति बदल दी है. खासकर हमने अपना सूचना तंत्र मजबूत किया है। इससे लगातार नक्सलियों की मांद में घुस रहे जवानों को मुठभेड़ में सफलता मिल रही है।

अब तक 104 नकस्ली ढेर

डीआइजी कमलोचन कश्यप ने बताया कि पिछले चार माह में प्रमंडल के विभिन्न नक्सल प्रभावित जिलों में जवानों और जवानों के बीच मुठभेड़ में 104 नक्सली मारे गये हैं. इन सभी नक्सलियों पर 3 करोड़ रुपये से ज्यादा का इनाम रखा गया था। इन नक्सलियों के मारे जाने से बस्तर में माओवादी संगठन को बड़ा नुकसान हुआ है। डीआइजी ने कहा कि पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ चलाया जा रहा ऑपरेशन ‘कगार’ आगे भी जारी रहेगा।

Read More:

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular