Monday, May 27, 2024
HomeLifestyleHealth Tips: आंखों की इस बीमारी की चपेट में आ रहे है...
HomeLifestyleHealth Tips: आंखों की इस बीमारी की चपेट में आ रहे है...

Health Tips: आंखों की इस बीमारी की चपेट में आ रहे है करोड़ों लोग, जानें इसके लक्षण

India News  CG (इंडिया न्यूज), Health Tips: आजकल आँखों की समस्याएँ लगातार बढ़ती जा रही हैं। हर उम्र के लोग इसका शिकार हो रहे हैं। छोटी उम्र में ही चश्मा पहनना शुरू कर दिया था. आंखों की रोशनी कम होने की समस्या बढ़ती जा रही है। हाल ही में जारी एक रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

विशेषज्ञों का कहना है कि जीवनशैली में तेजी से हो रहे बदलाव के कारण अनुमान है कि साल 2040 तक 300 मिलियन यानी 30 करोड़ से ज्यादा लोग ‘एज रिलेटेड मैक्यूलर डीजनरेशन’ बीमारी से प्रभावित होंगे। इस समय दुनिया में करीब 20 करोड़ लोग इस बीमारी के शिकार हैं। इस बीमारी को बढ़ती उम्र के साथ आंखों की रोशनी कम होने या आंखों की गंभीर समस्याओं का कारण माना जाता है। जानिए क्या है ये बीमारी…

मैक्यूलर डिजनरेशन क्या है

उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन अधिकतर 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में होता है। उनकी आंखों की रोशनी पूरी तरह से कम हो जाती है। ऐसा तब होता है जब रेटिना का केंद्रीय भाग यानी मैक्युला क्षतिग्रस्त हो जाता है। चूंकि यह बीमारी बढ़ती उम्र के साथ होती है, इसलिए इसे एज रिलेटेड मैक्यूलर डिजनरेशन कहा जाता है। आमतौर पर इससे अंधापन नहीं होता है लेकिन इससे आंखों से जुड़ी कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं।

एक्सपर्ट के मुताबिक

नेत्र रोग विशेषज्ञों का कहना है कि उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन की समस्या का कोई एक कारण नहीं है। ऐसा बढ़ती उम्र के साथ होता है, अगर माता-पिता या परिवार में किसी को पहले इस तरह की बीमारी रही हो तो बच्चों को भी यह बीमारी हो सकती है। अगर समय रहते इसके लक्षणों को समझ लिया जाए तो कम उम्र में ही इस खतरे से बचा जा सकता है।

जोखिम किसे है?

बेहद धूम्रपान करने वाला
उच्च रक्तचाप या कोलेस्ट्रॉल में
बहुत अधिक संतृप्त वसा खाना
मोटापे के कारण

बचाव के तरीके 

विशेषज्ञों के मुताबिक इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है। सिर्फ लक्षणों को कम करने के लिए कुछ उपाय अपनाए जा सकते हैं। कम उम्र से ही कुछ आदतें अपनाकर हम भविष्य में अपनी आंखों को सुरक्षित रख सकते हैं। धूम्रपान से पूरी तरह बचें, उच्च रक्तचाप जैसी स्थितियों को ध्यान में रखें, वजन नियंत्रित रखें, रोजाना व्यायाम करें, आंखों के लिए फायदेमंद चीजें ही खाएं।

ये भी पढ़ें :

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular