Tuesday, April 16, 2024
Homeटॉप न्यूज़Bengaluru Murder Case: मां ने किया अपने ही बेटे का मर्डर, जानें...
Homeटॉप न्यूज़Bengaluru Murder Case: मां ने किया अपने ही बेटे का मर्डर, जानें...

Bengaluru Murder Case: मां ने किया अपने ही बेटे का मर्डर, जानें खौफनाक कहानी

India News(इंडिया न्यूज), Bengaluru Murder Case: बेंगलुरु के 39 साल महिला स्टार्टअप संस्थापक और सीईओ सुचना सेठ पर सोमवार को उत्तरी गोवा के कैंडोलिम में एक सर्विस अपार्टमेंट में अपने चार साल के बेटे की हत्या का आरोप लगा है। पुलिस के अनुसार वो अपने बच्चे के शव को बैग में रखकर कर्नाटक वापस जाने के लिए टैक्सी किराए पर करके जा रही थी।

हालांकि जांच के दौरान अभी तक अपराध का कोई मकसद नहीं मिला है। बता दें कि घटना का खुलासा  तब हुआ जब हाउसकीपिंग स्टाफ के एक सदस्य को उस अपार्टमेंट की सफाई करते समय खून का धब्बा मिला, जहां से सुचना सेठ ने सोमवार सुबह चेक-आउट किया था। वहीं, पुलिस के अनुसार वह अपने पति के साथ अलग होने का हवाला देते हुए  शव को लेकर कैब में भागने की कोशिश कर रही थी।

क्या है हत्या का कराण? (Benglaru Murder Case)

गोवा पुलिस के अनुसार, आरोपी महिला ने इस खौफनाक अपराध का कारण ये रहा कि उसका बेटा उसके पूर्व-पति से मुलाकात नहीं कर पाए। मालूम हो कि सुचाना सेठ ने अपने पूर्व पति से 2010 में शादी की थी। आरोपी महिला ने 2019 में अपने बेटे को जन्म दिया। वहीं, पति के साथ हुए विवाद के बाद दोनों का 2020 में तलाक हो गया।

वहीं अदालत ने इस मामले में फैसला सुनाते हुए कहा था कि बच्चे का पिता उससे हर रविवार को मुलाकात कर सकता है। वहीं, इस बात से सुचाना बिल्कुल भी खुश नहीं थी

सुचना सेठ कौन हैं?

बता दें कि सुचना सेठ द माइंडफुल एआई लैब की संस्थापक हैं। वह चार सालों से भी अधिक समय से उस संगठन का नेतृत्व कर रही हैं, जो कृत्रिम बुद्धिमत्ता में प्रगति पर केंद्रित है। इसके साथ ही उन्होंने दो साल तक बर्कमैन क्लेन सेंटर में एक सहयोगी के रूप में काम किया। और बोस्टन, मैसाचुसेट्स में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और रिस्पॉन्सिबल मशीन लर्निंग की नैतिकता और शासन में योगदान दिया।

द माइंडफुल एआई लैब की स्थापना से पहले  सेठ बैंगलोर में बूमरैंग कॉमर्स में एक वरिष्ठ डेटा वैज्ञानिक थीं। वह मूल्य अनुकूलन और बुद्धिमत्ता के लिए डेटा-संचालित उत्पादों को डिज़ाइन करती थी। इस अवधि के दौरान उन्होंने दो पेटेंट दाखिल किये। वह इनोवेशन लैब्स से भी जुड़ी थीं। सेठ कंपनी के डेटा साइंसेज ग्रुप में वरिष्ठ विश्लेषण सलाहकार के रूप में काम करती थीं।

2008 में प्रथम श्रेणी सम्मान

सेठ के पास कलकत्ता विश्वविद्यालय से खगोल भौतिकी के साथ प्लाज्मा भौतिकी में विशेषज्ञता के साथ भौतिकी में मास्टर डिग्री है, जहां उन्होंने 2008 में प्रथम श्रेणी सम्मान हासिल किया। इसके साथ ही उन्होंने रामकृष्ण मिशन इंस्टीट्यूट ऑफ कल्चर से प्रथम रैंक के साथ संस्कृत में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा और कोलकाता के भवानीपुर एजुकेशन सोसाइटी कॉलेज से प्रथम श्रेणी सम्मान के साथ भौतिकी (ऑनर्स) में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। अपने कॉलेज के दिनों में सेठ ने प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं में सक्रिय रूप से भाग लिया।

Read More: CG News: मुख्यमंत्री विष्णु देव साय पहुंचे पाटन सदन , पूर्व CM भूपेश के पिता दिवंगत नंदकुमार बघेल को दी श्रद्धांजलि

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular