Monday, May 27, 2024
HomeCrimeCrime: गलती से टक्कर लगने के आरोप में युवक को मार-मार कर...
HomeCrimeCrime: गलती से टक्कर लगने के आरोप में युवक को मार-मार कर...

Crime: गलती से टक्कर लगने के आरोप में युवक को मार-मार कर बना दिया अधमरा, जानिए क्या है पूरा माजरा

Crime: गलती से टक्कर लगने के आरोप में युवक को मार-मार कर बना दिया अधमरा, जानिए क्या है पूरा माजरा

India News CG ( इंडिया न्यूज), Crime: छत्तीसगढ़ के पेंड्रा जिले में एक मामूली विवाद ने अब गंभीर रूप ले लिया है, जिसमें एक महिला की हत्या हो गई है। मामला बसंतपुर के एक गाँव से है, जहां एक बाइक सवार के द्वारा महिला को टक्कर मारने का आरोप लगाया जा रहा है। इस घटना के पश्चात, महिला के परिजनों ने उसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी। अब परिजनों ने पुलिस में शिकायत करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

Crime: क्या है माजरा?

गुरुवार को जिले के बसंतपुर में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। सड़क पर दौड़ते हुए एक बच्चे को बचाने की कोशिश में, एक बाइक सवार युवक ने किनारे चल रही महिला को टक्कर मार दी। महिला को यह बात बहुत नाराज कर गई और उसने अपने परिवार के साथ बाइक सवार को बुलाया। इसके बाद, बेहद बेरहमी से, लोगों ने उसे पीटा। उसकी इतनी बुरी हालत हो गई कि उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। घटना के बाद, मृतक के परिजनों ने पुलिस में शिकायत की है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

गुस्से में ये क्या कर दिया 

सूत्रों का कहना है कि मृतक राम पनिका, जो कि आमाडांड गांव का निवासी था, अपने विवाहित जीवन में विधवा पत्नी की मौत के बाद अपने माता-पिता और 10 साल के बेटे का पालन-पोषण अकेले करता था। गुरुवार को वह पेंड्रा गया था और काम के बाद घर लौट रहा था। घर लौटते समय उन्हें बसंतपुर के पास महिलाएं बच्चों के साथ सड़क पर टहलती हुई दिखाई दी। इस दौरान, एक बच्चा सड़क पर दौड़ने लगा और उसे बचाने के चक्कर में रामा नामक महिला से टक्कर हो गई। टक्कर के कारण महिला को चोट आई। इसके बाद उसने अपने परिजनों को फोन कर मौके पर बुलवाया। इस घटना से नाराज परिजनों ने बिना सोचे समझे रामा की पिटाई करना शुरू कर दी।

Crime: मार-मार के बना दिया अदमरा

गांव के ग्रामीण और राहगीरों ने मार्ग में खड़े होकर उन्हें रोकने का प्रयास किया था। लेकिन उनकी बातें नहीं सुनी गयी और अंधाधुंध में रामा को मार-मार कर अधमरा कर दिया गया। यह बताया जा रहा है कि उस बेसुधी में वह बहुत ही परेशान हो गया। इसके बाद राम के भाई रामप्रसाद को मामले की सूचना मिली। उन्होंने तुरंत एंबुलेंस की मदद से अपने भाई को अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने उसे बिलासपुर सिम्स रेफर कर दिया लेकिन उसकी हालत गंभीर थी और उसकी मौत हो गई।

राम की मौत के बाद, उसके 10 साल के बच्चे और वृद्ध माता-पिता का सहारा छूट गया है। परिजनों और समाज के लोगों ने पेंड्रा थाने में आकर दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाने की मांग की है। पेंड्रा पुलिस भी इस मामले की जांच में तत्पर हो गई है।

Read More:

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular